दिल्ली: मेट्रो में महिलाओं की मुफ्त यात्रा को मेट्रो मैन ने बताया नुकसानदायक

हाल ही में केजरीवाल ने महिलाओं को बड़ी सौगात देते हुए कहा था की दिल्ली सरकार ने दिल्ली मेट्रो और डीटीसी बसों में महिलाओं को किराए से छुटकारा दिलाने के लिए निशुल्क यात्रा का फैसला किया है। लेकिन मेट्रो मैन के नाम से मशहूर ई श्रीधरन ने उनके इस प्रस्ताव को मेट्रो के लिए नुकसानदायक बताया है। इस बारे में उन्होंने नरेंद्र मोदी को एक पत्र भी लिखा है।

क्या लिखा पत्र में 

श्रीधरन ने पत्र में कहा है कि अगर सरकार वास्तव में किसी को मुफ़्त यात्रा सुविधा देने के लिए कोई उपाय करना चाहती है तो इसके लिए मेट्रो की मौजूदा प्रणाली में कोई बदलाव करने की जगह लाभार्थी को लाभ राशि सीधे उसके बैंक खाते में देना (डीबीटी) बेहतर उपाय होगा।

उन्होंने कहा ‘मेट्रो के व्यवस्थित तंत्र को बनाए रखने के लिए 2002 में मेट्रो सेवा शुरू होने के समय ही हमने किसी तरह की सब्सिडी नहीं देने का सैद्धांतिक फैसला किया था और तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने भी इसकी प्रशंसा की थी। इतना ही नहीं अटल जी ने भी उद्घाटन के समय खुद टिकट खरीदकर मेट्रो यात्रा कर इस बात का संदेश दिया था कि मेट्रो सेवा की गुणवत्ता बनाए रखने के लिए ऐसा किया जाना जरूरी है।’