दून की नदियों में चुगान की नीलामी प्रक्रिया पर रोक

हाईकोर्ट ने देहारादून की सभी नदियों में चुगान के लिए जारी नीलामी पर रोक लगा दी है। इस मामले में कोर्ट ने राज्य सरकार को बुधवार 12 जून तक जवाब दाखिल करने के आदेश दिए है। हाईकोर्ट के ताजा आदेश से दून में बरसात से पहले नदियों की ड्रेनिंग की योजना खटाई में पड़ती नजर आ रही है । जिला प्रशासन एक रोज पहले दून के 18 लॉटों को लॉटरी के जरिये पाँच  करोड़ में नीलाम  कर चुका है। मंगलवार को न्यायमूती सुधांशु धूलिया की एकलपीठ  देहारादून निवासी जगदिश पांवर व  संतोष कुमार की याचिका में गया था कि  देहारादून  के  जिलाधिकारी  नदियों के लिए ट्रेंडर जारी किया था।लेकिन इसमें  शर्त  थी । कि  यह चुगान मात्र 19 दिन  भीतर करना होगा ।  इस प्रक्रिया  को याचिका के माध्यम  से चुनौती देते  हुए कहा  गया  कि मात्र 19  दिन का समय पायर्ता  नहीं  है ।  कुछ क्षेत्र ऐसे भी है जिनमें चुगान के  लिए केंद्र सरकार की   इन्वायरमेंटल क्लियररेंस  जरूरी है जो  जिलाधिकारी ने   नहीं लिया । याचिकाकर्ता  ने  कहा की ये क्षेत्र  रिजर्व फोरिस्ट व राजाजी नेशनल पार्क के है। याचिकाकर्ता के अनुसार चुगान की अवधि बढ़ाने के लिए जिलाधिकारी को पत्र दिया गया , एकलपीठ ने मामले में सुनवाई करते हुए सरकार को बुधवार 12  जून तक जवाब पेश करने को कहा है। तब तक चुगान से संबधित नीलामी प्रक्रिया  पर रोक रहेगी ।