विमान अपहरण की अफवाह फैलाने पर कारोबारी को उम्र कैद

NIA की विशेष अदालत ने अमहदाबाद में मुंबई के कारोबारी बिरजू सल्ला को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई और साथ ही 5 करोड़ रुपये का जुर्माना भी लगाया  है। सल्ला ने अक्टूबर 2017 में जेट एयरवेज के एक विमान में अपहरण की धमकी वाला नोट लिखकर छोड़ा था।

विशेष एनआईए अदालत के न्यायाधीश के एम दवे ने कहा कि दोषी कारोबारी बिरजू सल्ला से वसूले गए इस जुर्माने को प्लेन के क्रू मेंबर्स और यात्रियों में बांटा जाएगा। सल्ला पर 30 अक्टूबर को विमान के शौचालय के टिशू पेपर बॉक्स में अंग्रेजी और उर्दू में धमकी भरा नोट लिखकर विमान अपहरण की अफवाह फैलाने का आरोप है।

सल्ला को  अक्टूबर 2017 में विमान के अहमदाबाद हवाई अड्डे पर आपातकालीन लैंडिंग के बाद गिरफ्तार किया गया था। ऐंटी हाइजैकिंग ऐक्ट, 2016 के तहत बिरजू सल्ला को यह सजा सुनाई गई।

जांच के पूछताछ के दौरान बिजनेसमैन सल्ला ने अपना गुनाह कबूल किया था। साथ ही बताया था कि उसने ऐसा इसलिए किया ताकि जेट एयरवेज इस खतरे के कारण दिल्ली की यह उड़ान निरस्त कर दे और जेट के दिल्ली ऑफिस में काम करने वाली उसकी गर्लफ्रेंड वापस मुंबई आ जाए।