अमेरिका की दो टूक- पाकिस्तान पर भारत के साथ शांति की जिम्मेदारी

पाकिस्तान में इमरान खान सरकार की ओर से भारत के साथ बातचीत की दिखाई जा रही बेकरारी के बीच अमेरिका ने साफ किया है कि दक्षिण एशिया में स्थायी शांति की जिम्मेदारी पाकिस्तान पर है। अमेरिका के मुताबिक उनके यहां फल फूल रहे आतंकी संगठिनों पर कारगार तरीके से कार्रवाही करने के बाद ही भारत से बातचीत का माहौल तैयार कर सकता है।

गौरतलब है की पाकिस्तानी पीएम इमरान खान ने भारत के साथ बातचीत करने के लिए काफी बेताब दिखाई दे रहें हैं। इसलिए पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान दूसरी बार पत्र लिखकर बातचीत की इच्छा जाहीर की है। लेकिन भारत अपने पुराने रुख पर कायम है। भारत ने आतंकवाद को लेकर उसपर अंतराष्ट्रीय दबाव बना कर रखा है।

भारत का यही कड़ा रुख पाकिस्तान की परेशानी का सबब बना हुआ है। लेकिन अब अमेरिका ने भी ने भी साफ कर दिया है की दक्षिण एशिया में शांति की ज़िम्मेदारी पाकिस्तान पर ही है। उसे ही भारत से बातचीत करने की पहल करनी होगी।

बता दें कि लोकसभा में जीत के बाद मोदी को फोन पर बधाई देते हुए इमरान ने बातचीत कि इच्छा जताई थी लेकिन मोदी ने उन्हें नसीहत देते हुए कहा कि पहले वह क्षेत्र में शांति के लिए हिंसा और आतंकवाद को खत्म करें।