आचार संहिता उल्लंघन नोटिस पर राहुल का जवाब, बोलें- निष्पक्षता से हो कार्रवाई

शहडोल में दिये भाषण को लेकर राहुल गांधी को आचार संहिता उल्लंघन पर नोटिस मिला था। अब राहुल गांधी ने चुनाव आयोग के समक्ष अपना जवाब भेजा हैं। जिसमे उन्होंने चुनाव आयोग को निष्पक्ष होकर कार्य करने की सलाह दे डाली है। राहुल ने चुनाव आयोग पर पक्षपात का आरोप लगते हुए कहा की जब भी आप किसी शिकायत का निपटारा करते है उस समय आपको बिना किसी का पक्ष लिए काम करना चाहिए।

बता दें की राहुल गांधी ने मध्यप्रदेश के शहडोल में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा था की ‘मोदी जी ने नया कानून बनाया है जिसके तहत पुलिस आदिवासियों को गोली मार सकती है। यह कानून आदिवासियों पर हमले की खुली छूट देता हैं ये आपकी जमीन, आपके जंगल और आपका पानी आपसे छीन लिया और अब कहते है आदिवासियों को गोली मारी जा सकती है।’ इस बयान के बाद चुनाव आयोग द्वारा उनको आचार साहिता का उल्लंघन करने पर नोटिस भेजा गया था। जिसके बाद राहुल गांधी ने जवाब देते हुए कहा की मेरे बयान को सही तरह से नहीं लिया गया उन्होंने अपना भाषण समझाने के लिए इस ढंग से बात कही थी जिससे लोग स्पष्ट रूप से उनके भाषण को समझ सकें। उन्होंने बीजेपी पर आरोप लगते हुए कहा की मैं पार्टी का स्टार प्रचारक हूं इसलिए मेरे खिलाफ इस प्रकार की शिकायत करके वह मेरे चुनाव प्रचार में बाधा उत्पन्न करना चाहते हैं।