मोदी की केदारनाथ गुफा बनी टूरिस्ट स्पॉट

सभी को याद हो तो लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजों से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केदारनाथ की एक गुफा में ध्यान लगाया था…. पीएम मोदी के इस ध्यान ने दुनियाभर में सुर्खियां बटोरी थीं और केदारनाथ की ये स्पेशल गुफा चर्चा में आ गई थी…. चर्चा इतनी कि अब ध्यान के लिए ये गुफा हाउसफुल चल रही है….जी हाँ  अक्टूबर 2019 तक की सारी बुकिंग हो चुकी है, यानी केदारनाथ में ये गुफा अब स्पेशल टूरिज्म प्वाइंट बन गई है.

प्रधानमंत्री ने पूरी रात इस गुफा में गुजारी थी. इसी के बाद इस गुफा में जाने वाले लोगों की संख्या बढ़ गई, पिछले पैसठ  दिनों में यहां छियालीस  श्रद्धालु ध्यान लगा चुके हैं. और अभी भी अक्टूबर तक गुफा में ध्यान करने वालों की बुकिंग फुल चल रही है.गढ़वाल मंडल विकास निगम के अनुसार, अभी तक इस गुफा के जरिए उन्हें पिचानवे  हजार रुपये की आय प्राप्त हुई है. यहां रात्रि प्रवास के लिए 1500 रुपये और दिनभर के लिए 990 रुपये का शुल्क तय किया है.

18 मई की शाम प्रधानमंत्री इस गुफा में पहुंचे थे, 19 मई की सुबह 7 बजे पीएम गुफा से बाहर निकले और फिर केदारनाथ धाम में दर्शन करने के लिए गए. बता दें कि 19 मई को लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के लिए मतदान होना था और 17 मई को प्रचार रुक गया था. उसी के बाद पीएम मोदी केदारनाथ मंदिर में दर्शन करने गए थे और बाद में गुफा में ध्यान लगाने पहुंच गए.समुद्री तल से 12 हजार फीट की ऊंचाई पर मौजूद इस गुफा में वाई-फाई, फोन और बेड का भी इंतजाम है. यही कारण रहा था कि प्रधानमंत्री के जाने के बाद ये काफी चर्चा में आ गई थी, गुफा में ध्यान लगाती प्रधानमंत्री की तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी वायरल भी हुई थी.