कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडेय के बेटे की मौत, सीएम त्रिवेन्द्र रावत ने जताया दुख

कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडेय के छोटे बेटे अंकुर पांडेय की सड़क हादसे में मौत हो गई। इस हादसे में उनके एक पारिवारिक दोस्त की भी मौत हो गयी है। जानकारी के अनुसार मंगलवार देर रात वह अपने साथी मुन्ना गिरी और पिंकू यादव के साथ किसी वैवाहिक कार्यक्रम में हिस्सा लेने गोरखपुर जा रहे थे। गाड़ी अंकुर ही चला रहा था। बरेली के पास फरीदपुर और रजउ के नजदीक आमने-सामने ट्रक और कार की टक्कर से वह गंभीर रूप से घायल हो गए। इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान अंकुर और उनके दोस्त मुन्ना की मौत हो गई जबकि एक अन्य साथी कोमा में है। हादसे की सूचना के बाद अरविंद पांडेय देहरादून से चलकर बुधवार करीब 10 बजे अपने आवास पहुंचे। इस घटना के सामने आने के बाद  उनके गोविंदपुर स्थित आवास में लोगों का जनसैलाब उमड़ा पड़ा।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने इस घटना पर दुख जताते हुए ट्वीट किया- ‘कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडेय जी के पुत्र अंकुर की सड़क हादसे में असमय मृत्यु का बेहद दुःखद समाचार मिला। ईश्वर से कामना करता हूं कि अंकुर की आत्मा को शांति व पांडेय परिवार को इस असहनीय दुःख से उबरने की शक्ति मिले’।

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भी घटना पर दुख जाहीर करते हुए कहा की शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे के बेटे अंकुर पांडे की सड़क दुर्घटना में असमय मृतु का दुखद समाचार बेहद हृदयविदारक है। मैं ईश्वर से दिवांगत आत्मा की शांति के लिए और दुख की इस कठिन घड़ी में शोकाकुल परिजनों को संबल प्रदान करने की प्रार्थना करता हूं।